Fitter Exam Paper in Hindi Set 2

ITI Fitter Model Question Paper in Hindi

क्या आप फीटर आईटीआई का एग्जाम में पास होना चाहते है, तो आप इस Question को ध्यान से पढ़िए |
फिटर आईटीआई ( Fitter ITI ) पर आधारित प्रश्न दिए हुए है |

Multiple choice questions on Fitter exam in Hindi 

Learn online ITI exam question here . MCQs on Fitter ITI in Hindi.

Fitter Exam Paper in Hindi Set 2


1. यूनवर्सल सर्फस गेज (universal surface gauge) के निम्नलिखित भागों में से कौन सा डेटम एज (datum edge) के साथ समानांतर रेखा खींचने में मदद करता है?

A. गाइड पिंस (Guide pins)
B. सही समायोजन पेंच
C. आधार
D. रॉकर आर्म (Rocker arm)

2 आम तौर पर एक वाइस (vice) के हैन्डल की लंबाई क्या होती है

A. वाइस (vice) के बहुत मामूली हिस्से का 2.5 गुना
B. वाइस (vice) के बहुत मामूली हिस्से का 3.5 गुना
C. वाइस (vice) के बहुत मामूली हिस्से का 4.5 गुना
D. वाइस (vice) के बहुत मामूली हिस्से का 1.5 गुना

3 सुरक्षित तरीके से काम करने का सही तरीका क्या है?

A. काम करने का एक प्रभावी और सही तरीका
B. काम करने का एक प्राचीन तरीका
C. जल्दी में काम को संभालने का एक तरीका
D. सामान्य काम का एक तरीका

4 वाइस क्लैंप (Vice clamps) का उपयोग किसके लिए किया जाता है?

A. नौकरी के फिनिश्ट सर्फस (finished surfaces) की रक्षा करें
B. दृढ़ता से नौकरी पकड़ने के लिए
C. वाइस (vice) के सेरेटिड जॉज़ (serrated jaws) की रक्षा करें
D. फाइल की रक्षा करें

5. निम्न में से कौन सा एक मौलिक इकाइयां (fundamental units) नहीं हैं?

A. दबाव (Pressure)
B. लंबाई (Length)
C. मास (Mass)
D. समय


ITI का पूर्ण रूप औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान है। आईटीआई एक सरकारी प्रशिक्षण संस्थान है जो उच्च माध्यमिक विद्यालय के बाद छात्रों को उद्योग से संबंधित प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है जबकि कुछ ट्रेडों को 8 वीं के बाद भी लागू किया जा सकता है।

ये संस्थान विशेष रूप से उन छात्रों को तकनीकी ज्ञान प्रदान करने के लिए स्थापित किए गए हैं जो सिर्फ 10 वीं कक्षा उत्तीर्ण हैं और उच्च अध्ययन करने के बजाय कुछ तकनीकी ज्ञान प्राप्त करना चाहते हैं।

आईटीआई का गठन महानिदेशालय रोजगार और प्रशिक्षण (DGET), कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय और केंद्र सरकार के तहत विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए किया जाता है।
आईटीआई के तहत चलने वाले पाठ्यक्रमों को “ट्रेड्स” अर्थात के रूप में जाना जाता है। इलेक्ट्रीशियन, फिटर, मैकेनिक ट्रैक्टर, आरएसी आदि।
पाठ्यक्रमों की अवधि अधिकतर 2 वर्ष है जिसमें 4 सेमेस्टर शामिल हैं (1 वर्ष या 2 सेमेस्टर के पाठ्यक्रम भी उपलब्ध हैं)।
आईटीआई पाठ्यक्रम विभिन्न उद्योगों जैसे मैकेनिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, सूचना प्रौद्योगिकी, निर्माण, ऑटोमोबाइल, डीजल यांत्रिकी, लिफ्ट यांत्रिकी, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर, शीट धातु, विद्युत, नलसाजी, वायर मैन आदि के लिए प्रशिक्षण प्रदान करता है।

आईटीआई कुशल श्रमशक्ति का उत्पादन करता है जो किसी भी उद्योग के लिए उपयुक्त है और ये संस्थान वास्तव में किसी भी उद्योग की रीढ़ हैं, किसी भी क्षेत्र में आकांक्षी को “कुशल” बनाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान करते हैं।